बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अब सत्ताधारी जदयू और भाजपा में भिड़ंत होनी शुरु हो गई है. सारा मामला जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बयान पर गर्मा गया है. जदयू ने तो सीधे सीधे गिरिराज के बयान को बिहार का माहौल खराब करने वाला बता दिया है.

BREAKING NEWS: Shaheen Bagh is being used to produce squads ...

गिरिराज सिंह ने पिछले दिनों कहा था कि देश के लिए जनसंख्या वृद्धि एक बड़ी चुनौती बन गई है. अब आवश्यक्ता हो गई है कि देश को विकसित राष्ट्र बनाने के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बना देना चाहिए. गिरिराज सिंह के इस बयान को भाजपा का भी समर्थन मिला. भाजपा विधायक नितिन नवीन ने कहा कि जो लोग भी जनसंख्या नियंत्रण कानून का विरोध कर रहे हैं, वो देश को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं.

गिरिराज सिंह के इस बयान पर विरोधी तो विरोधी सहयोगी भी कड़ी आपत्ति जताने लगे. सहयोगी जनता दल यूनाइटेड के विधान पार्षद खालिद अनवर ने गिरिराज सिंह पर नॉन सीरियस बयान देने का आरोप लगाते हुए कह दिया कि जब पूरा देश इस वक्त कोरोना जैसी महामारी से लड़ रहा है तो ऐसे समय में जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की बात करने का कोई मतलब नहीं है. जदयू नेता ने कहा कि गिरिराज सिंह ऐसे बयान देकर बिहार का माहौल खराब करना चाहते हैं.

वहीं राजद और कांग्रेस ने गिरिराज सिंह की नीयत पर ही सवाल खड़ा कर दिया. राजद विधायक शक्ति सिंह यादव ने कहा कि चुनाव के पहले इस तरह के मुद्दों को उठाकर गिरिराज सिंह साबित क्या करना चाहते हैं जबकि कांग्रेस विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि गिरिराज सिंह से अपेक्षा थी कि वो कोरोना के मुद्दे पर देश को कोई मंत्र देंगे पर नहीं, वो तो ऐसी बी बात करेंगे, जिससे प्रदेश का माहौल खराब हो.