दिवंगत पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान देश की राजनीति में एक बड़ा नाम हुआ करते थें. इस वक्त उनकी पार्टी लोजपा की कमान उनके पुत्र चिराग पासवान के हाथों में है. ऐसे में जो मांग चिराग को स्वयं करनी चाहिए थी, वो राजद के चर्चित नेता और तेजस्वी के करीबी अनिल कुमार साधु ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कर दी है.

Anil Kumar Sadhu (@SadhuPaswan) | Twitter

चिराग पासवान के बहनोई और स्वर्गीय पासवान के दामाद अनिल कुमार साधु ने यह मांग की है कि रामविलास जी दिल्ली के जिस 12 जनपथ के बंगले में रहा करते थें, उसे राष्ट्रीय स्मारक बनाया जाए. इतना ही नहीं अनिल कुमार साधु ने कहा कि हाजीपुर जो स्व. पासवान का परंपरागत निर्वाचन क्षेत्र रहा है, वहां के रेलवे जंक्शन का नाम रामविलास पासवान के नाम पर किया जाए.

पासवान के खिलाफ उनके दामाद ने खोला मोर्चा, RJD दे सकती है टिकट - ram-vilas- paswan-son-in-law-anil-sadhu-may-get-rjd-ticket-attacks-bihar-ljp

 

अनिल कुमार साधु ने अपने फेसबुक पोस्ट में कहा कि स्वर्गीय रामविलास पासवान देश के एक कद्दावर नेता थें. अतः जिस प्रकार से पूर्व उपप्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम के दिल्ली स्थित बंगले को स्मारक में तब्दील कर दिया गया, ठीक उसी प्रकार रामविलास पासवान के बंगले को भी स्मारक में तब्दील कर दिया जाए, ताकी आने वाली पीढ़ी रामविलास जी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व से अवगत हो सके.

 

आपको बताते चलें कि अनिल कुमार उर्फ साधु पासवान स्वर्गीय रामविलास पासवान के दामाद एवं चिराग पासवान के बहनोई होने के साथ ही राष्ट्रीय जनता दल के एससी, एसटी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष हैं. अनिल कुमार साधु एवं चिराग पासवान के बीच छत्तीस का आंकड़ा माना जाता है.